January 17, 2018

अगर अच्छाई को भगवान ने बनाया तो फिर बुराई को किसने बनाया - Nice Story


आप सभी लोग जानते हैं कि दुनिया में दो तरह की चीज है एक है अच्छाई और दूसरी है बुराई। आपने यह भी सुना होगा कि दुनिया में जो भी चीज है हर किसी को भगवान ने ही बनाया है। इस दुनिया की हर एक चीज भगवान की बनाई हुई है। आप सब यह बचपन से ही सुनते आ रहे हैं, तो फिर क्या बुराई को भी भगवान ने ही बनाया है। यह सवाल जितना विचित्र है यकीन मानिए इसका जवाब उतना ही सरल है।

इस सवाल का जवाब देने से पहले मैं आपको कुछ और बातें भी बताना चाहता हूं। क्या इस दुनिया में ठंड का कोई भी वजूद है? अब आप कहेंगे हां बिल्कुल है, हम ठंड को महसूस कर सकते हैं। लेकिन आप यहीं पर गलत हो जाते हैं क्योंकि ठंड जैसी कोई चीज इस दुनिया में है ही नहीं। ठंड सिर्फ गर्मी की अनुपस्थिति का अहसास भर है और इससे ज्यादा कुछ भी नहीं है।

इसी तरह यदि मैं पूछूं यह क्या इस दुनिया में अंधेरे का कोई अस्तित्व है? तो आप कहेंगे हां बिल्कुल है रात को अंधेरा ही तो होता है और क्या होता है पूरी की पूरी रात अंधेरी ही होती है। लेकिन मैं आपसे फिर यही कहूंगा कि आप गलत है। अंधेरा जैसा इस दुनिया में कुछ भी नहीं होता यह सिर्फ रोशनी की अनुपस्थिति होती है। इसका मतलब रोशनी ना होने पर हमें जो काला काला दिखाई देता है या जो हम महसूस करते हैं उसे हम अंधेरा कहते हैं। लेकिन ऐसा कुछ होता नहीं है यह सिर्फ रोशनी की अनुपस्थिति है और कुछ भी नहीं।

इसलिए यदि आपने जिंदगी में कभी भी फिजिक्स पढ़ी होगी, तो आपको उसमें हमेशा लाइट एंड हीट ही पढ़ाया जाता रहा होगा न कि कोल्ड और डार्क। क्योंकि ऐसी कोई चीज होती ही नहीं है तो उसके बारे में पढ़ाएंगे कैसे?

इसी तरह ईश्वर ने सिर्फ अच्छा-अच्छा ही बनाया है। अब जहां अच्छा नहीं होता, वहां हमें बुराई नज़र आती है, पर बुराई को ईश्वर ने नहीं बनाया। ये सिर्फ अच्छाई की अनुपस्थिति मात्र है। दरअसल दुनिया में कहीं भी बुराई है ही नहीं। ये सिर्फ प्यार, विश्वास और ईश्वर में हमारी आस्था की कमी का नाम है। ज़िंदगी में जब और जहां मौका मिले अच्छाई बांटिए। अच्छाई बढ़ेगी तो बुराई होगी ही नहीं।

No comments:

Post a Comment